Series 82 -SKNAS 4 -Agni Dah or Bhoomi Dah / अग्नि दाह या भूमि दाह

24-Apr-2020

सतपंथ के प्रचारकों ने इस्लाम के रीति रिवाज को हिंदुओं में प्रथापित करने हेतु से हिन्दू वेदों, पुराणों और शास्त्रों का अर्ध सत्य लोगों के सामने ऐसे रखा मानो पहली नजर में सामान्य मनुष्य को विश्वास हो जाए की हिन्दू शास्त्रों भी वही इस्लाम के मूल्य और आदर्श बतातें हैं ।

इस रणनीति का एक उदाहरण है, सतपंथ में मृतक की दफन विधि । पिराणा सतपंथ के प्रचारक ऐसा प्रचार करतें हैं कि अथर्व वेद और गरुड पुराण में भूमि दाह का प्रमाण है, इस लिए सतपंथीयों को भूमि दाह करना चाहिए ।

उन्होंने अथर्व वेद और गरुड पुराण का “अर्ध सत्य” लोगों के सामने रखकर हिन्दू समाज के साथ छल किया है ।

Youtube.com : https://youtu.be/JdcgWgS1qNI
Archive.org    : https://archive.org/details/series82

यह वीडियो उनके इस छल को लोगों के सामने खुला कर दिया है ।  इस वीडियो को देखने से पता चलेगा की गहराई से हिन्दू शास्त्रों का अभ्यास कर संपूरण रूपसे, वेदों, पुराणों, उपनिषदों, और सूत्रों के प्रमाण जनता के सामने रखें हैं। इसके साथ उन वेदों, पुराणों के मंत्रों और श्लोकों के नंबर (क्रम) भी बताए हैं । और जो हिन्दू शास्त्रों के  अधिक परिचित ना हो, उनकी सहायता हेतु, सभी वेदों, पुराणों और अन्य प्रमाणों की नकलों को डाउनलोड करने के लिय लिंक भी वीडियो में दिए है ।

जो यहाँ पर भी नीचे है ।

Download Link: https://archive.org/download/series82

अंत में सतपंथ के प्रचारक कैसे अपने जूठ को छुपाने पूरे आत्म विश्वास के साथ सत्य के नाम पर सफेद जूठ बोल जातें है, यह बात बताई है और श्री जनार्दन जी का एक उसका एक उत्तम उदाहरण भी दिया है ।

Real Patidar

Leave a Reply

%d bloggers like this: